101+ विश्वास पर धोखा शायरी हिंदी में {TOP} Dhoka Shayari

नमस्कार दोस्तों | अगर आप भी विश्वास पर धोखा शायरी (Dhoka Shayari) ढूंढ रहे हो तो हमने यहाँ पर विश्वासघात करने वालो के लिए  शायरी लिखी है आप इन Vishwas par Dhoka Shayari को  Instagram, Facebook और Whatsapp पर शेयर कर सकते हो और उन्हें करारा जवाब दे सकते हो  | 

उम्मीद है आपको हमारी ये विश्वास पर धोका देने वालो के लिए शायरी पसंद आएंगे |

विश्वास पर धोखा शायरी हिंदी में

विश्वास पर धोखा शायरी हिंदी में


मैंने प्यार जितनी तसल्ली से किया, 
उसने धोखा भी बहुत मज़े से दिया।

धोखा खाए इंसान को टूटने के लिए नहीं बल्कि
खुद को समेटने के लिए हिम्मत चाहिए . . !!

धोखेबाज़ को एक बार धन्यवाद तो जरूर ही बोलियेगा,
क्योंकि आप उससे वक्त रहते बच गए।

बीच सफर में अकेला छोड़ जाते हैं
ये रिश्ते विश्वासघात कर ..
यूँही विश्वास तोड़ जातें है।

धोखा देने वाले इंसान को दोबारा मौका देना
खुदकुशी करने जैसा है . . !!

दोस्त थोड़े कम ही बनाये,
लेकिन धोखेबाज़ दोस्तों से दूर रहें।

हम ज़िंदा है या मुर्दा
ये समझने में धोखा खा जाती है
मौत अक्सर हमारे पास से होकर गुजर जाती है . . !!

उसने मुझे धोखा दिया तो क्या हुआ
बुजुर्ग कहते हैं धोखा खाने से इंसान को
जल्दी अकल आती है . . !!

धोखा देने वाला से ज्यादा बड़ी गलती धोखा खाने वाले की होती है, 
आँखें बंद कर के विश्वास कर लेना।

एक आईना ही है जिसने आज तक किसी इंसान को धोखा नहीं दिया।


विश्वास पर धोखा शायरी 2 Line

विश्वास पर धोखा शायरी 2 Line



गर रिश्तों को लम्बे समय तक बनाये रखना हैतो जिन्दगी में रिश्ते के साथ भरोसे को भी जोड़ना होगा।
 
भरोसे की आड़ लेकर वो करीब आतें है
और बिना आग लगाए वो जिन्दगी को जला जातें है

धोखा खाकर इंसान जो सीख लेता है,
वो सीख उसे दुनिया के किसी किताब से नहीं मिल सकती।

सुकून-ए-जिन्दगी का अब में कहाँ से लांऊ
गिरा हुए है ये जमाना तुझे कैसे समजाऊँ

भरोसा ही नहीं उसने मेरा दिल भी तोडा है
मुझे खुदगर्ज कह कर उसने
किसी और को अपनी जिंदगी से जोड़ा है।

जीवन की असली ख़ुशी आपको तभी मिलेगी जब
आप गैरों से ज्यादा खुद पर यकीन करने लगेंगे।

तनहा-सी जिन्दगी के बेजान से नज़ारे
वो अब हुए नहीं अपने जो पहले थे हमारे।

विश्वास की डोर को कमजोर समझ कर
यूँही तोड़ जाते है
बेवफाई करने वाले अक्सर बीच राहों में
युहीं छोड़ जाते है।

हर रिश्ता छूट जाता है
जब विश्वास टूट जाता है

विश्वास किया था किसी अपने पर
मगर उसने उसे तोड़ डाला
अपना अपना कहता फिरता था कभी
मगर अब बीच राहों में मुझे छोड़ डाला

सच कहूंगा भरोसा मत करना उन झूठे वादों पर
जो तुम्हे अक्सर अपना बनने के लिये किये जातें है।

Vishwas par Dhoka Shayari in Hindi

Vishwas par Dhoka Shayari in Hindi



विश्वासघात वो जहर है जो पीने वालों को
को भी शांति से नहीं जीने देता और पिलाने वालों को भी।

खुदा भी तेरे साथ होगा
जब तेरा खुद पर विश्वास होगा।

किस्से हजार हुए जिन्दगी में मगर
उनमे विश्वसाघात भरा वो किस्सा
बड़ा दर्द भरा रहा।

चेहरे पर हँसी और होठों पर नकली मुस्कान है
और यहीं मेरे दर्द और तेरे विश्वासघात की पहचान है।

टूट जातें है भरोसे भी तुम किसी को अपना तो बनाओ
जल जातें है दिल भी तुम ज़रा किसी से दिल तो लगाओ।


मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता की तुम अब कहाँ हो
मुझे बस इतना पता है की तुम इस दुनिया की
सबसे बड़ी बेवफा हो।

विश्वास भी इतना ही करो
की टूटे तो ज्यादा दर्द ना हो

कमी तो मेरी रही जो अपनों पर
खुद से ज्यादा विश्वास कर लिया

विश्वासघात वो जहर है जो पीने वालों को
को भी शांति से नहीं जीने देता और पिलाने वालों को भी।

नकली मुस्कान लिये फिर रहा है
क्यों क्या किसी अपने ने विश्वास तोडा है तुम्हारा

मुझसे गलती क्या हुई उसने कह दिया
तूने मेरा विश्वास तोड़ा है
लेकिन उनको ये मालूम नहीं की ना जाने उनकी
कितनी गलतियों ने तो मेरा दिल तक तोड़ा है।

टुटा हुआ भरोसा कभी जुड़ता नहीं
बेवफाई करने वाला आशिक कभी मुड़ता नहीं।

Final Words:-

उम्मीद है की आपको विश्वास पर धोखा शायरी हिंदी में पसंद आयी होंगी | अगर आपको और भी विश्वास धोखा शायरी और  विश्वास टूटने पर शायरी चाइये तो हमारी वेबसाइट DigitalNitin.rocks पे सर्च कर सकते हो | 

अगर आपके पास भी Vishwas par Dhoka Shayari या विश्वासघात पर शायरी हो तो कमेंट बॉक्स में हमारे साथ शेयर जरूर करना | और इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करना |

अगर आप भी  Vishwas par Dhoka Shayari  या विश्वासघात पर शायरी तो हमने यहाँ पर शेयर किए है 
 
Thanks for Visiting...

ये भी जरूर पढ़े:-

Related Posts

Post a Comment